नई दिल्ली: अमृतसर में शुक्रवार शाम एक चर्च में फायरिंग से सनसनी मच गई। कई राउंड फायरिंग के बाद इस घटना में चर्च के पास्टर की मौत हो गई और एक व्यक्ति घायल हो गया। कहा जा रहा है कि कांग्रेस नेता रणदीप सिंह गिल ने 7-8 साथियों के साथ चर्च में घुसकर करीब 20 राउंड गोलियां चलाईं। हमलावरों ने युवक को बचाने आए उसके भाई पर भी गोलियां चला दी। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना शहर के गिलवाली गेट के पास स्थित श्री गुरु रामदास नगर में इस चर्च में हुई। कांग्रेस नेता रणदीप सिंह गिल ने अपने साथियों के साथ ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं। वारदात के बाद सभी हमलावर फरार हो गए। हमलावरों से 17 से 20 राउंड गोलियां चलाईं। रणदीप इस बात से नाराज था कि लॉकडाउन के दौरान पास्टर प्रिंस ने उन्हें चर्च में आने से रोका था। इसे लेकर विवाद हो गया था। कुछ दिन पहले दोनों के बीच समझौता भी करवाया गया था, लेकिन इसका कोई असर नहीं हुआ। रणदीप ने शुक्रवार को चर्च में घुसकर फायरिंग कर दी। मृतक प्रिंस के परिवार ने कहा कि रणदीप बाबा खेतरपाल जी शक्ति दल ऑल इंडिया का चेयरमैन भी है। उसने ही चर्च में फायरिंग की। घायल प्रिंस की अस्पताल ले जाते वक्त मौत हो गई। उसका भाई मनोज बुरी तरह से जख्मी है। जानकारी के अनुसार, रणदीप की प्रिंस से रंजिश थी। लॉकडाउन में कुछ लोग चर्च में आकर प्रार्थना करते थे। हालांकि चर्च के पास्टर ने चर्च में लोगों के आने पर रोक लगा रखी थी। इसके बाद भी रणदीप लगातार चर्च आता था और इसे लेकर बहस भी हुई थी।
मंगलवार को दोनों पक्षों में राजीनामा भी करवाया जा रहा था, लेकिन आरोपी किसी भी कीमत पर प्रिंस से समझौते को तैयार नहीं था। इसी के चलते रणदीप और प्रिंस के बीच शुक्रवार को भी चर्च में विवाद हुआ। प्रिंस लगातार माफी मांग रहा था लेकिन रणदीप और उसके साथियों ने पिस्तौल और दोनाली से गोलियां चला दीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here