Coronavirus: PM मोदी 28 दिसंबर को पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट जाएंगे, जानिए वजह

Cover Story
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •   
  •   
  •  
  •  

नई दिल्ली: देश में कोरोना वैक्सीन को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 28 दिसंबर को पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट जाएंगे। वे यहां वैक्सीन के निर्माण का जायजा लेंगे और इसकी समीक्षा करेंगे। साथ ही वितरण पर भी चर्चा करेंगे। पुणे के डिविजनल कमिश्नर सौरभ राव का कहना है कि पीएम मोदी के बाद 4 दिसंबर को 100 देशों के राजदूत सीरम इंस्टीट्यूट और जेनेवा बायोफार्मा का दौरा करेंगे। सीरम इंस्टीट्यूट, पुणे की ओर से बनाई जा रही वैक्‍सीन से सबसे ज्‍यादा उम्‍मीदें हैं। संस्थान ने एस्‍ट्राजेनेका के साथ एक बिलियन डोज सप्‍लाई करने की पार्टनरशिप की है। इसे स्‍थानीय स्‍तर पर Covishield नाम दिया गया है। हाल ही संस्थान के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा है कि वह बड़ा ऐलान करने वाले हैं। उन्होंने कोविशील्ड को लेकर कहा है कि यह 90 प्रतिशत तक प्रभावी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि यह वैक्सीन सबसे पहले मार्केट में आ सकती है। खबर यह भी है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वैक्सीन के ट्रायल को देखने पुणे जा सकते हैं। अगर अंतरिम नतीजों में वैक्‍सीन सफल रही तो इसी साल के आखिर तक इमर्जेंसी में उपलब्‍ध हो सकती है। आम जनता के लिए वैक्‍सीन के अगले साल पहली तिमाही में आने की संभावना है। वैक्‍सीन के अंतरिम नतीजे जल्‍द आने वाले हैं। कोरोना वैक्सीन के वितरण को लेकर भारत में तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को राज्य के मुख्यमंत्रियों से चर्चा की थी। इस दौरान उन्होंने राज्यों को 2 लक्ष्य दिए। पहला- कोरोना से मरने वालों की दर 1% से नीचे लाना और दूसरा- संक्रमण के फैलाव की दर को 5% से कम करना। इसके बाद राज्य के मुख्यमंत्रियों का कहना है कि वे वितरण की पूरी व्यवस्था कर चुके हैं। वैक्सीन मिलते ही इस पर काम शुरू हो जाएगा।


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •   
  •   
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *