US: जो बाइडेन (Joe Biden) ने कहा, अमेरिका दुनिया का नेतृत्व करने और शीर्ष स्थान पर विराजमान होने के लिए तैयार है

World
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •   
  •   
  •  
  •  

वॉशिंगटन: ‘अमेरिका इज बैक’ की घोषणा के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा और विदेशी नीति पर अपने महत्वपूर्ण अधिकारियों के नाम की घोषणा करते हुए अमेरिका के अगले राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि अगली सरकार दुनिया का नेतृत्व करने और एक बार फिर सर्वोच्च स्थान पर विराजने के लिए तैयार है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की निवर्तमान सरकार की 4 साल से चला आ रही ‘अमेरिका फर्स्ट’ की नीति से काफी अलग हटकर बाइडेन ने कहा कि अमेरिका ‘अपने विरोधियों का सामना करने के लिए तैयार है, सहयोगियों को खारिज करने के लिए नहीं। वह अपने मूल्यों के पक्ष में खड़े रहने के लिए तैयार है।
एंटनी ब्लिंकेन बने अमेरिका के नए विदेश मंत्री
अपने पैतृक नगर, जहां से वह सत्ता का हस्तांतरण ले रहे हैं, विलमिंगटन डेलावर में डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता बाइडेन ने अपने 6 शीर्ष अधिकारियों को परिचय दिया और गठबंधन, कोरोना वायरस संक्रमण महामारी से निपटने और जलवायु परिर्वन से जुड़ी जरुरतों पर बल दिया। उन्होंने कहा कि दुनिया भर के नेता ‘अमेरिका को प्रशांत महासागर, अटलांटिक और पूरी दुनिया के वैश्विक नेता के उसके परंपरागत रूप में देखने के इच्छुक हैं।’ बाइडेन ने विभिन्न पदों पर जिन लोगों को नामित किया है उनमें विदेश मंत्री के लिए एंटनी ब्लिंकेन को और पूर्व विदेश मंत्री जॉन केरी को जलवायु परिर्वतन पर राष्ट्रपति का विशेष दूत नामित किया गया है।
20 जनवरी 2021 को शपथ लेंगे जो बाइडेन
उन्होंने कहा, ‘यह जो टीम है, यही मेरी टीम है। वह मेरे मूल सिद्धांत में भरोसा करते हैं कि अपने सहयोगियों के साथ मिलकर काम करने के दौरान अमेरिका सबसे ताकतवर होता है। इस तरह से हम बेकार की लड़ाइयों में उलझे बगैर अमेरिका को सुरक्षित, अपने विरोधियों को नियंत्रण में और आतंकवादियों को दूर रखेंगे ।’ बाइडेन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के रूप में 20 जनवरी 2021 को शपथ लेंगे। उन्होंने कहा, ‘अमेरिका सिर्फ अपनी ताकत के उदाहरण के बल पर नेतृत्व नहीं करता है, बल्कि वह अपने उदाहरणों की ताकत पर नेतृत्व करता है।’
‘हमारी विदेश नीति में सुधार करेंगे अधिकारी’
उन्होंने कहा कि उनके द्वारा चुने गए अधिकारी ना सिर्फ विदेश नीति में सुधार करेंगे बल्कि अमेरिकी विदेश नीति और राष्ट्रीय सुरक्षा को अगली पीढ़ी के लिए सही करेंगे। ‘वह मुझे ऐसे बातें बताएंगे जिन्हें जानना जरुरी है, ना कि जो मैं सुनना चाहता हूं।


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •   
  •   
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *