नई दिल्‍ली: भले ही देश में बुखार का सीजन चल रहा है, लेकिन कोरोना में भी लोगों को ज्‍यादातर केस में बुखार आता है और जांच के बाद कोरोना की पुष्टि होती है। हालांकि ऐसा नहीं है कि जिन लोगों को भी बुखार आया हो, वह कोरोना का शिकार हुए हो। लेकिन यदि आपको बुखार के दौरान एक लक्षण दिखाई देता है, जो यह सामान्य बुखार नहीं है, बल्कि कोरोना हो सकता है।
बुखार और खांसी Covid-19 के मुख्य लक्षण हैं। मौसमी फ्लू में भी यह समान लक्षण ही हैं। जिससे हर कोई भ्रमित है कि क्या यह कोरोना या मौसमी फ्लू है?
सामान्य बुखार और कोरोना के लक्षण
एक नए अध्ययन के अनुसार, कोविड-19 और फ्लू में देखे गए लक्षणों की तुलना और बारीकी से अध्ययन किया गया है। शोधकर्ताओं ने तब कहा था कि दोनों में एक विशेष अंतर है जो आपको बताएंगा कि यह सामान्य फ्लू है या कोविड-19।
कोविड-19 की विशेषताएं
अध्ययन के अनुसार, संक्रमित होने पर रोगी को सबसे पहले बुखार आता है। उत्तरार्द्ध खांसी और मांसपेशियों में दर्द का कारण बनता है। इसके बाद उल्टी और दस्त होता है। अंत में सांस लेने में कठिनाई होती है। यह लक्षण आम फ्लू से अलग है।
आम फ्लू
दूसरी ओर आम फ्लू में पहले खांसी और बाद में बुखार आता है। न्यूयॉर्क के एक डॉक्टर ने कहा कि यह समझना थोड़ा मुश्किल है, क्योंकि फ्लू में पीठ दर्द, ठंड लगना आदि आम बात है। इन लक्षणों को समझने के लिए शोधकर्ताओं ने हू द्वारा चीन में कोविड के 55000 रोगियों पर यह शोध किया। जिसमें यह जानकारी सामने आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here