नई दिल्लीः इस साल आईपीएल का आयोजन 19 सितंबर से लेकर 10 नवंबर के बीच दुबई में होगा। बता दें की भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को इसके लिए भारत सरकार की भी मजूंरी मिल चुकी है। बीते रविवार को हुई आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में आईपीएल से जुडे़ कई अहम मुद्दों पर फैसले लिए गए हैं। आईपीएल के 13वें सीजन में 10 दिन ऐसे होंगे, जिनमें दो-दो मुकाबले खेले जाएंगे। बता दें की पूरी लीग 53 दिनों तक चलेगी। इसके साथ ही बीसीसीआई ने आईपीएल की मुख्‍य प्रायोजक चीनी कंपनी वीवो के साथ अपने करार को भी बरकरार रखा है।
हालांकि बोर्ड के इस फैसले को आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा है, क्योंकि भारत सरकार नें कुछ दिनों पहले हीं कई चीनी एप्स बैन किए थे। ऐसे में लोगों का मानना है की आईपीएल की मुख्‍य प्रायोजक कंपनी भी एक चीनी कंपनी है तो उसे बैन क्यों नहीं किया गया। बता दें की मीटिंग में एक ऐसा भी फैसला लिया गया है, जिससे एमएस धोनी की अगुआई वाली टीम चेन्‍नई सुपर किंग्‍स को एक बड़ा झटका लगा है।
दरअसल चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के ज्‍यादातर खिलाड़ियों की उम्र तीस साल से अधिक हैं और निश्चित रूप से उन्हें बाकी टीमों की तुलना में मैच फिटनेस हासिल करने के लिए अधिक समय की जरूरत है। मालूम हो की सीएसके के तीन मुख्य खिलाड़ी एमएस धोनी, सुरेश रैना और हरभजन सिंह ने करीब एक साल से प्रतिस्‍पर्धी क्रिकेट नहीं खेला है। इसीलिए धोनी की अगुआई वाली चेन्‍नई सुपर किंग्‍स बाकी की टीमों से पहले हीं यूएई पहुंचकर अपनी ट्रेनिंग शुरू करना चाहती थी और खबरें ऐसी भी आई थी कि टीम को दुबई के लिए 10 से 11 अगस्‍त के बीच रवाना होना था ताकी वह 15 अगस्‍त से पहले अपना कैंप शुरू कर सके।
अब गर्वनिंग काउंसिल की मीटिंग में सभी फ्रेंचाइजी और स्‍टैक होल्‍डर्स को एक सप्‍ताह की देरी से यूएई के लिए रवाना होने को कहा गया है। बता दें की अधिकतर टीमों ने अगस्‍त के दूसरे या तीसरे सप्‍ताह में यूएई रवाना होने की योजना बना ली थी लोकिन अब बीसीसीआई ने सभी आईपीएल फ्रेंचाइजियों को साफ स्पष्ट कर दिया है कि कोई भी टीम 20 अगस्त से पहले यूएई रवाना नहीं हो सकती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here