नई दिल्ली: अमेरिका ने सीरिया में ड्रोन हमला कर आतंकियों को नेस्तनाबूत कर दिया। अमेरिकी सेना ने कहा कि उसने गुरुवार को तुर्की की सीमा के पास उत्तर-पश्चिमी सीरिया में अल-कायदा के नेताओं के खिलाफ ड्रोन हमला किया, जिसमें 17 जिहादी मारे गए हैं। युद्ध की निगरानी के अनुसार ये दावा किया गया है। हालांकि सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा कि मारे गए लोगों में पांच नागरिक भी थे। यूनाइटेड स्टेट्स सेंट्रल कमांड (CENTCOM) के प्रवक्ता ने कहा, अमेरिकी बलों ने सीरिया में अल-कायदा के एक समूह (एक्यू-एस) के वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ एयर स्ट्राइक की। उन्होंने कहा, इन अल कायदा के नेताओं के मारे जाने से आतंकवादी संगठनों के आगे साजिश रचने और अमेरिकी नागरिकों, हमारे सहयोगियों और निर्दोष नागरिकों पर हमला करने की साजिश जरूर नाकाम होगी। ब्रिटेन स्थित ऑब्जर्वेटरी ने कहा कि यह ऑपरेशन सालकिन क्षेत्र के जकारा गांव में जिहादियों की एक रात्रिभोज बैठक को टार्गेट कर अंजाम दिया गया। जिसमें 11 नेताओं सहित कम से कम 17 जिहादी मारे गए। यह गांव सीरिया के आखिरी प्रमुख विद्रोही इदलिब के गढ़ में स्थित है, जिसमें हयात तहरीर अल-शाम (एचटीएस) समूह का वर्चस्व है, जिसका नेतृत्व पूर्व अल-कायदा सहयोगी और उसके विद्रोही सहयोगी करते हैं। प्रतिद्वंद्वी अल-कायदा से जुड़े हुरस अल-दीन गुट सहित अन्य जिहादी समूह भी क्षेत्र में मौजूद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here