मिसेस इंडिया इंटरनेशनल में मोस्ट टैलेंटेड पर्सन का ख़िताब जीतकर आई इंदौर की सोनिया सलूजा

कॉम्पिटशन में रही सेकंड रनरअप

इंदौर। नेशनल और इंटरनेशनल लेवल के ब्यूटी पीजेंट्स में अब इंदौर का नाम चमकने लगा है। 28 सितम्बर को जयपुर में हुए मिसेस इंडिया इंटरनेशनल ब्यूटी पीजेंट में शहर की आंत्रप्रेन्योर सोनिया सलूजा को मोस्ट टैलेंटेड पर्सन के ख़िताब से नवाजा गया है। इस पीजेंट में वे सेकंड रनरअप रही। उनका चयन देश के 90 शहरों में हुए ऑडिशन में आए 5000 से लोगों में से हुआ है। जयपुर के ग्रैंड युनिअर होटल में हुए ग्रैंड फिनाले में उन्हें क्राउन पहनाया गया। इस पीजेंट के जूरी मेंबर्स में रोडीज़ फेम रणविजय, एक्टर उपेन पटेल और करण कुंद्रा, प्रिंस नरूला, प्रियंक शर्मा, सोफिया सिंह के साथ अर्जुन अवार्डी अनुज चौधरी भी थे। पीजेंट में रेम्प वॉक और क्वेश्चन-आंसर राउंड के साथ ही एक सीक्रेट ‘टैलेंट राउंड’ भी था, जिसके बारे में प्रतिभागियों को नहीं बताया गया था। इस राउंड में सभी प्रतिभागियों को ऑन द स्पॉट अपना कोई टैलेंट दिखाना था। इस राउंड में सोनिया ने एक खूबसूरत नगमा सुनकर सभी ज्यूरी मेंबर्स का दिल जीतने के साथ ही मोस्ट टैलेंटेड पर्सन का ख़िताब भी अपने नाम कर लिया।
ख़िताब लेकर सोमवार को ही शहर वापस लौटी सोनिया कहती है कि ब्यूटी पीजेंट में हिस्सा लेने का सपना मैंने बचपन से ही देखा था पर मुझे लगता था कि मेरी हाइट कम होने के कारण मैं इस तरह के कांटेस्ट नहीं जीत पाऊँगी पर शादी के बाद मेरे हस्बैंड अमित सलूजा ने मेरे इस सपने को पंख दिए। फेसबुक और इंस्टाग्राम के जरिए मुझे जब इस पीजेंट के बारे में पता लगा तो अमित ने मुझे बहुत मोटिवेट किया। वो खुद मुझे ऑडिशन देने के लिए भोपाल लेकर गए और सिलेक्शन के बाद मुझे ग्रूमिंग के लिए जितने दिन जयपुर में रहना पड़ा, वो अपने सारे काम छोड़ कर मेरे साथ गए ताकि हमारे दो साल के बेटे आर्यन को वहां संभाल सकें। पीजेंट की पूरी जर्नी में मैंने खुद को नए सिरे से खोजा और जाना। शादी और बच्चे के बाद मैं खुद का ख्याल रखना भूल-सी गई थी। सपने देखना छोड़ दिए थे पर मोस्ट टेलेंटेड पर्सन का ख़िताब जीतने के बाद मुझे एहसास हुआ कि शादी और बच्चों के बाद एक लड़की की खुद की ज़िंदगी ख़त्म नहीं हो जाती बल्कि ये एक नई शुरुआत होती है अपने सपनों को सच करने की। मैं बाकि महिलाओं को भी यही सलाह देती हूँ कि परिवार का ध्यान रखते हुए अपना भी ख्याल रखना मत भूलिए। आप अपनी जिम्मेदारियां निभाते हुए भी अपने सपनों को सच कर सकती है बस जरूरत है थोड़ी हिम्मत दिखाने की।
ट्रेडिशनल और वेस्टर्न ऑउटफिट के साथ अलग तरीके से होती है वॉक
सोनिया कहती है पीजेंट में जिन 15 फाइनलिस्ट का चयन किया गया था, उन्हें जयपुर में ही ग्रूमिंग सेशंस दिए गए। इसमें हमें हेल्थ एंड फिटनेस टिप्स के साथ ही अपनी खूबसूरती बनाए रखने के लिए कई घरेलु नुस्खे भी बताए गए, जिसके जरिए हम आसानी से अपनी पर्सनल और प्रोफ़ेशनल लाइफ की जिम्मेदारियां निभाते हुए भी खुद को हेल्दी और ब्यूटीफुल बनाए रख सकें। रैंप वॉक की प्रैक्टिस के दौरान हमें बताया गया कि ट्रेडिशनल और वेस्टर्न वियर ड्रेसेस के साथ रेम्प वॉक करने का तरीका भी बदल जाता है। वेस्टर्न वियर में बोल्ड और फीयरलेस तरीके से रैंप वॉक करनी होती है जबकि ट्रेडिशनल इंडियन अटायर में वॉक करते हुए आपकी चाल में अदा और नजाकत होना जरुरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here