UNN@ पाकिस्तान की इमरान सरकार के मंत्रिमंडल ने आखिरकार नवाज शरीफ को राहत दे दी। इमरान मंत्रिमंडल ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को इलाज कराने के लिये विदेश जाने की अनुमति देने का फैसला किया। हालांकि इसके पीछे एक कठिन शर्त भी है। इमरान सरकार ने शर्त रखी है कि अगर वह इलाज कराकर वापस लौटने और भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना करने का वादा करते हुए जमानत पत्र पर हस्ताक्षर करते हैं तो ही उन्हें अनुमति दी जाए।
इससे पहले नवाज शरीफ को विदेश जाने से रोक दिया गया था। प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक ने शरीफ का नाम उन लोगों की सूची से हटा दिया है जिनके विदेश जाने पर रोक है। पाकिस्तान के रेल मंत्री राशिद अहमद ने मीडिया को बताया कि मंत्रिमंडल ने “शर्तों के साथ” शरीफ को विदेश जाने की अनुमति दी है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के प्रमुख शरीफ शुक्रवार को डॉक्टरों की सलाह और परिवार के आग्रह को मानकर उपचार के लिए ब्रिटेन जाने पर सहमत हो गए थे। उन्हें रविवार को पाकिस्तान इंटरनेशनल एअरलाइंस (पीआईए) की उड़ान से लंदन जाना था, लेकिन वह सूची में अपना नाम होने के कारण ऐसा नहीं कर पाए। डॉक्टरों के अनुसार, शरीफ के विदेश जाने की प्रक्रिया में तेजी लाने की जरूरत है। किसी आपात स्थिति में इलाज के लिए शरीफ को विदेश ले जाना लगभग मुश्किल होगा। डॉक्टर पूर्व प्रधानमंत्री का प्लेटलेट काउंट बढ़ाने के लिए अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रहे हैं ताकि जब वह यात्रा करें तो उनकी तबीयत न बिगड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here