नई दिल्ली। दिवाली आने से पहले ही भारतीय रिजर्व बैंक ने देशवासियों को दिवाली का तोहफा दिया है। शुक्रवार को रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति की समीक्षा पेश की। इसमें रेपो रेट में 25 बेसिस पॉइंट यानी चौथाई फीसदी तक की कटौती की गई है।
रेपो रेट घटने के बाद बैंक भी अपने ब्याज दर घटाएंगे और जिससे लोगों के होम लोन, ऑटो लोन आदि की ईएमआई कम हो जाएगी। इसके साथ ही इस साल अब तक ब्याज दर में 1.35 फीसदी तक की कटौती हो चुकी है। रेपो रेट घटकर अब 5.15 फीसदी रह गई है। उम्मीद है कि बैंक दिवाली से पहले इसका फायदा ग्राहकों तक पहुंचाएंगे। इसके साथ ही रिवर्स रेपो रेट यानी जो ब्याज बैंकों को रिजर्व बैंक के पास फंड रखने में मिलता है, उसको भी घटाकर 4.90 फीसदी कर दिया गया है।
RBI की मौद्रिक नीति समिति (MPC) ने फैसला लिया है कि जब तक ग्रोथ में सुधार नहीं आता, इस तरह के राहत देने वाले कदम उठाए जाएं, लेकिन महंगाई को लक्ष्य के भीतर रखने पर पूरा ध्यान होगा। गौरतलब है कि रिजर्व बैंक ने मध्यम अवधि में कंज्यूमर प्राइस आधारित महंगाई 4 फीसदी रखने का लक्ष्य रखा है। वहीं अभी तक रेपो रेट की बात करें तो ऐतिहासिक रूप से रेपो रेट 4.75 फीसदी रहा जोकि रेपो रेट का सबसे निचला स्तर रहा है। सवाल किया गया कि क्या अब इससे भी नीचे जाएगा। तो इस सवाल पर रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि अभी इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता, लेकिन रिजर्व बैक जरूरत पड़ने पर कदम उठाता रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here