नई दिल्ली: उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत पर पूरे देश में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। निर्भया की मां आशा देवी ने मानवाधिकार संगठनों पर ज़ोरदार हमला बोलते हुए कहा है कि आज उनको मिठाई बांटनी चाहिए। साथ ही उन्होंने मांग की है कि इस मामले को उन्नाव से दिल्ली ट्रांसफर किया जाय। निर्भया की मां ने आशंका जताई है कि उन्नाव में पीड़ित परिवार को धमकाया जा सकता है इसलिए इस केस को दिल्ली ट्रांसफर किया जाय।

केंद्रीय गृह मंत्रालय और दिल्ली सरकार द्वारा राष्ट्रपति से 2012 के निर्भया के दुष्कर्म और हत्या मामले में एक दोषी द्वारा दायर दया याचिका को खारिज करने की सिफारिश करने के बाद पीड़िता की मां ने भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखा है और दया याचिका को खारिज करने की अपील की है। हरिजन सेवक संघ के माध्यम से अग्रसारित याचिका में मां ने आरोप लगाया कि दोषी विनय शर्मा मौत की सजा से बचने की कोशिश में लगा है।

उन्होंने याचिका में कहा, “दोषियों में से एक विनय शर्मा द्वारा दायर दया याचिका जानबूझकर मौत की सजा से बचने और न्याय को रोकने की कोशिश है।” याचिका में कहा गया, “इसलिए बेहद सम्मान के साथ प्रार्थना है कि उक्त दया याचिका को खारिज कर दिया जाए।” रविवार को दिल्ली सरकार ने शर्मा की दया याचिका को खारिज करने की सिफारिश की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here