मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए उद्धव ठाकरे सरकार ने लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया है। राज्य में 31 जुलाई तक लॉकडाउन लागू रहेगा। इससे पहले 30 जून तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाया गया था। बता दें कि देश में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में ही हैं। 31 जुलाई तक बढ़े लॉकडाउन में पहले के मुकाबले कुछ और ढील दी गई है और सरकार ने इसको लेकर दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। राज्य के चीफ सेक्रटरी अजॉय मेहता की तरफ से लॉकडाउन बढ़ाने का आदेश जारी किया गया है। इस आदेश में कहा गया है कि राज्य में कोरोना वायरस के फैलने का खतरा लगातार बना हुआ है। इसलिए वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी उपाय के तहत ये कदम उठाया जा रहा है। महामारी ऐक्ट 1897 की धारा-2 और आपदा प्रबंधन कानून 2005 के तहत पूरे महाराष्ट्र में 31 जुलाई 2020 मध्यरात्रि तक के लिए लॉकडाउन को बढ़ाया जाता है।
नए दिशा-निर्देश
लॉकडाउन के दौरान अब तक जिस तरह जरूरी वस्तुओं की दुकानें (दूध, सब्जी और दवाइयां) खुलती रही हैं, उसी तरह उन्हें छूट जारी रहेगी। वहीं, ऑड-इवन डे में दूसरी दुकानों को भी खोला जा सकता है। इसके साथ ही दफ्तरों में सीमित संख्या में कर्मचारियों की उपस्थिति होगी। मिशन बिगिन अगेन के तहत राज्य सरकार के सभी विभागों को पहले जारी की गई गाइडलाइंस का सख्ती से पालने करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा लोगों को एक दूसरे से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाकर रखनी होगी और दुकानदारों को तय करना होगा कि उनकी दुकान में एक समय में 5 से ज्यादा ग्राहक न आएं। जनसभाओं पर प्रतिबंध लगा रहेगा। शादी समारोह में 50 से ज्यादा लोगों को अनुमति नहीं होगी। किसी की मृत्यु होती है तो उसके अंतिम संस्कार के लिए भी अधिक से अधिक 50 लोग इकट्ठा हो सकेंगे। सार्वजनिक जगहों पर थूकना दण्डात्मक होगा और तय नियम के तहत कार्रवाई होगी, सार्वजनिक स्थलों पर शराब पीना, पान या तंबाकी का सेवन करने पर भी प्रतिबंध है।
राज्य में 1.64 लाख से ज्यादा पॉजिटिव केस
महाराष्ट्र कोरोना वायरस के मामलों में नए रेकॉर्ड बना रहा है। रविवार को राज्य में कोरोना के एक दिन में रेकॉर्ड 5,493 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में कुल कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,64,626 हो गई। इसके अलावा कोरोना संक्रमण से 156 लोगों की मौत हुई है। इससे राज्य में महामारी से जान गंवाने वालों का आंकड़ा बढ़कर 7,429 पहुंच गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here