नई दिल्ली: ई-कॉमर्स कंपनी एमेजॉन के सीईओ जेफ बेजोस छोटे एवं मध्यम कारोबारियों के लिए आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भारत दौरे पर हैं। लेकिन जेफ बेजोस का ये दौरा काफी चुनौतियों से भरा है। दरअसल, देश के कुछ हिस्‍सों में जेफ बेजोस का जबरदस्‍त विरोध भी हो रहा है। वहीं भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CCI) ने एमेजॉन के ख‍िलाफ जांच के भी आदेश दे दिए हैं। दिल्ली में आयोजित छोटे-मध्यम कारोबारियों के लिए आयोजित कार्यक्रम ‘अमेजन संभव’ में भारत को लेकर दो घोषणाएं कीं। उन्होंने कहा- ‘अमेजन 2025 तक 10 अरब डॉलर (71 हजार करोड़ रुपए) मूल्य के मेक इन इंडिया प्रोडक्ट्स एक्सपोर्ट करेगा। इसके साथ ही भारत में छोटे और मध्यम कारोबारों को डिजिटाइज करने के लिए एक अरब डॉलर (7,100 करोड़ रुपए) का निवेश किया जाएगा।’ बेजोस ने इस घोषणा की वजह भी बताई। उन्होंने कहा कि अमेजन भी किसी समय छोटा बिजनेस था।
उन्होंने कहा, ‘ऐमजॉन का दावा है कि उसके पोर्टल पर पहले से ही पांच लाख खुदरा विक्रेता हैं। कंपनी यह बताए कि उसने इन व्यापारियों के सशक्तिकरण के लिए अब तक क्या किया है। ‘ कैट के मुताबिक उसके बैनर तले ऑल इंडिया मोबाइल रीटेलर्स असोसिएशन, ऑल इंडिया कंज्यूमर प्रॉडक्ट्स डिस्ट्रिब्यूटर्स फेडरेशन सहित अन्य व्यापारी संगठन बेजोस का विरोध में शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here