इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि सऊदी अरब और ईरान के बीच सैन्य संघर्ष इस्लामाबाद के लिए विनाशकारी होगा। उन्होंने कहा कि इन दोनों देशों के बीच टकराव न हो, इसीलिए उनकी सरकार क्षेत्रीय तनाव को कम करने के लिए प्रयास कर रही है। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने अपने बयान में सऊदी अरब को अपने सबसे अच्छे दोस्तों में से बताया। वहीं, ईरान के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि उसके साथ पाकिस्तान ने हमेशा एक अच्छा रिश्ता बनाए रखा है।

‘सऊदी दोस्त, ईरान के साथ अच्छे संबंध’

रिपोर्ट्स के मुताबिक, डायचे विले को दिए एक इंटरव्यू में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री खान ने कहा, ‘यह सच है कि हम एक मुश्किल पड़ोस में रहते हैं और हमें अपनी गतिविधियों को संतुलित करना होगा। उदाहरण के लिए, सऊदी अरब पाकिस्तान के सबसे अच्छे दोस्तों में से एक है और वह हमेशा से हमारे साथ रहा है। वहीं हमारे लिए ईरान भी है, जिसके साथ हमने हमेशा एक अच्छा रिश्ता बनाए रखा है। इसलिए सऊदी अरब और ईरान के बीच सैन्य संघर्ष पाकिस्तान के लिए विनाशकारी होगा।’

‘हम पूरी कोशिश कर रहे हैं संबंध न बिगड़ें’
ट्रंप ने कहा, ‘हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि इन दोनों देशों के बीच संबंध न बिगड़ें। यह एक ऐसा क्षेत्र है, जो एक और संघर्ष को बर्दाश्त नहीं कर सकता।’ दोनों देशों के बीच पनपे उच्च तनाव को ध्यान में रखते हुए खान ने विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी को तेहरान और रियाद के लिए भेजा है, ताकि संयम बना रहे और विवाद को बढ़ने से रोका जा सके। ईरान और अमेरिका के बीच तनाव कम करने के अपने प्रयासों के लिए कुरैशी फिलहाल वॉशिंगटन में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here