इंदौर : कमिश्नर इंदौर संभाग डॉ. पवन शर्मा ने बुधवार को इंदौर संभाग के बड़वानी जिले के कलेक्टरेट सभागृह में राजस्व, पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों की मैराथन बैठक कर जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु किये जा रहे प्रयासों एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की। बैठक में कलेक्टर श्री शिवराज सिंह वर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री निमिष अग्रवाल, जिला पंचायत सीईओ श्री ऋतुराज, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अनीता सिंगारे, अपर कलेक्टर श्रीमती रेखा राठौर, एसडीएम सुश्री अंशु जावला एवं अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
कमिश्नर डॉ. शर्मा ने जिले में चल रहे कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु कोरोना प्रभावित पाये गये लोगों के परिवार के सदस्यों एवं उनके सम्पर्क में आये लोगों के सेम्पल लेकर जांच करवाने के कार्य की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि इससे जहां प्रारंभिक अवस्था में ही कोरोना वायरस पॉजिटिव लोगो की पहचान होने से उनके इलाज में सुविधा मिलेगी, वही जिले में कोरोना वायरस की चेन को भी सफलतापूर्वक रोकने में मदद मिलेगी ।
बैठक के दौरान डॉ. शर्मा ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अनीता सिंगारे को निर्देशित किया कि सम्पूर्ण जिले में रेण्डम आधार पर चल रहे सेम्पल कलेक्शन के कार्य को और योजनाबद्ध तरीके से किया जाये। जिससे प्रतिदिन एकत्रित हो रहे सेम्पल कलेक्शन की लिस्टिंग करते हुये उन्हें जांच हेतु इन्दौर उसी दिन भेजा जा सके। जिससे जांच उपरान्त जल्दी से जल्दी रिपोर्ट प्राप्त हो सके ।
बैठक में कमिश्नर डॉ. शर्मा ने राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि रात्रि 8 बजे से प्रातः 5 बजे तक लागू प्रतिबंधों का पालन सख्ती से करवाया जाये। इस दौरान अत्यावश्यक होने पर ही लोगों को बाहर निकलने दिया जाये। इसी प्रकार उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग तथा सार्वजनिक स्थानों पर मुंह पर मास्क लगाने के नियम का उल्लंघन करने वालों पर भी और सख्ती बरतने के निर्देश दिये। कमिश्नर ने निर्देशित किया कि कोरोना वायरस प्रभावित पाये गये परिवार के सदस्य यदि होम क्वारेंटाइन के नियम का उल्लंघन करते हुये पाये जाते हैं तो उनके विरूद्ध एफआईआर करवाते हुये उन्हें संस्थागत क्वारेंटाइन करवाया जाये। जिससे कोई अन्य कोरोना से प्रभावित न होने पाये ।
बैठक में डॉ. शर्मा ने जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या के मद्देनजर वर्तमान में संचालित कोविड केयर सेंटर के अतिरिक्त अन्य स्थानों पर भी प्रारंभ हो सकने वाले कोविड केयर सेंटर स्थलो का चयन कर उन्हें समुचित संसाधनों से युक्त करने के भी निर्देश दिये। जिससे आवश्यकता पड़ने पर इन्हें तत्काल प्रारंभ किया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here