नई दिल्ली। अक्सर अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाए जाने को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य से अनुच्‍छेद 370 हटाना संविधान के खिलाफ है।बिना राज्‍य के लोगों की राय जाने यह फैसला लेना गलत है। इसके साथ ही उन्‍होंने आरोप लगाया कि सरकार को कश्‍मीरियों से नहीं, बल्कि जमीन से प्‍यार है। मोदी सरकार अपनी ताकत के बल पर फैसले ले रही हैं।उन्‍होंने कहा कि कश्मीर में 80 लाख लोग रहते हैं। कोई टेलीफोन नहीं चल रहा है। झूठ कहते हैं कि किसी को रोका नहीं गया। इंटरनेट तो दूर की बात है।कहते हैं कि राज्‍य में दिवाली जैसा माहौल है। तो उन लोगों पर से पाब‍ंदियां हटाएं। वो भी आपके साथ पटाएखें छोड़ेंगे। इस दौरान ओवैसी ने प्रधानमंत्री मोदी पर भी निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को पंड़ित नेहरू और सरदार पटेल की तरह राजनीतिक ज्ञान नहीं है। जब उन्होंने कश्मीर पर फैसला लिया था तो उन्होंने कहा कि ये देश के हित में है उनका दावा है कि वह श्यामा प्रसाद के पद चिन्हों पर चल रहे हैं। लेकिन शायद वे नहीं जानते की श्याम प्रसाद ने अनुच्छेद 370 को स्वीकार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here