नई दिल्ली। दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल बुधवार को पूरे एक्‍शन में दिखे। विधानसभा सत्र में उन्‍होंने हिंसा में शहीद हुए रतन लाल के परिवार को आर्थिक मदद के एलान का किया। इसके बाद वह उत्‍तर पूर्व के हिंसाग्रस्‍त क्षेत्र में डीसीपी के दफ्तर पहुंच कर हालात का जायजा लिया। इसके बाद उन्‍होंने लोगों शांति बनाए रखने की अपील की। नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर दिल्‍ली में हुए हिंसक प्रदर्शन में हेड कांस्टेबल रतन लाल की मौत हो गई थी।
दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा में यह ऐलान करते हुए कहा कि हम रतन लाल के परिवार को हर संभव मदद देंगे। इसके अलावा उन्‍होंने कहा कि हम उनके परिवार को मदद के तौर पर 1 करोड़ रुपये की राशि और एक नौकरी देंगे।
केजरीवाल ने सत्र के दौरान कहा कि दिल्‍ली की जनता हिंसा नहीं चाहती है। यह सब आम आदमी पार्टी के द्वारा नहीं किया गया है। यह सब उत्‍पात असामाजिक तत्‍वों के द्वारा किया है। हिंदू और मुस्‍लिम कभी नहीं लड़ते हैं। उन्‍होंने आगे कहा कि हम रतन लाल के परिवार को यह पूरा आश्‍वासन देना चाहते हैं कि आपका पूरा ख्‍याल रखा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here