कैथल: गृहमंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह हरियाणा विधानसभा चुनाव को लेकर प्रदेश के कैथल में जनसभा को संबोधित किया। अमित शाह ने जनसभा में कांग्रेस पर जमकर हमला किया। उन्होंने कहा कि “कल विजयादशमी थी, जो बुराई पर अच्छाई की प्रतीक है और यह शस्त्र पूजन करके मनाई जाती है। मैं देश के प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री जी को बधाई देता हूं कि कल के ही दिन उन्होंने राफेल को हमारी वायुसेना में शामिल करके, देश कि सुरक्षा को सुदृढ़ करने का काम किया है।”

अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि “मोदी जी ने राफेल को शामिल किया और राजनाथ जी ने फ़्रांस की भूमि पर विजयादशमी के दिन उसका शस्त्र पूजन किया, लेकिन कांग्रेस वाले उसका भी विरोध कर रहे हैं। मैं इनसे कहना चाहता हूं कि तनिक रात को सोचा करो, किस बात का विरोध करना है, किसका नहीं।” उन्होंने कहा कि “मोदी जी ने सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक करके पूरी दुनिया को बताया है कि भारत की सीमाओं के साथ कोई खिलवाड़ नहीं कर सकता और भारत के सैनिकों की जान की कीमत हम जानते हैं।

चुनावों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि “जब भी हरियाणा में सरकार बनती थी वो विशेष जातियों के लिए बनती थी। एक सरकार आती थी तो वो एक जाति का काम करती थी, दूसरी आती थी, तो दूसरी जाति का काम करती थी। मनोहर लाल खट्टर सरकार ऐसी बनी जिसकी कोई जाति नहीं है, ये सरकार हर हरियाणा वासियों की सरकार है।” वहीं, विरोधियों पर बरसे हुए उन्होंने कहा कि “अभी-अभी चुनाव शुरू हुआ है और हमारे विरोधियों को मालूम ही नहीं पड़ रहा कि चुनाव की शुरुआत पूरब से करें, पश्चिम से करें, उत्तर से करें या दक्षिण से करें, उनके पास कोई दिशा नहीं है।”

उन्होंने कहा कि “हरियाणा देशभर में बदनाम था कि यहां बेटियां कम जन्म लेती हैं। प्रधानमंत्री जी यहां आए और उन्होंने अपील की, कि ‘बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ’ हरियाणा का नारा बनना चाहिए। आज हरियाणा ने ‘बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ’ अभियान को सार्थक कर दिया है।” वहीं, इसके अलावा उन्होंने कश्मीर को लेकर कहा कि “5 अगस्त को प्रधानमंत्री जी ने अनुच्छेद 370 को उखाड़ कर फेंक दिया। 70 साल से देश के हर नागरिक के मन में एक कसक थी कि जम्मू-कश्मीर देश के साथ पूरा जुड़ा हुआ नहीं था। तीन-तीन पीढ़ियों तक शासन करने वालों में भी 370 हटाने की हिम्मत नहीं थी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here